सपने में शिव मंदिर देखना परिणाम ,फल ,अर्थ | Sapne Main Shiv Mandir Dekhna

Rate this post

सपने में शिव मंदिर देखना : नमस्कार दोस्तों हमारे ब्लॉग में आपका स्वागत है. आज का हमरा विषय या टॉपिक है. सपने में शिव मंदिर देखना [Sapne Main Shiv Mandir Dekhna] और जानेंगे आखिर सपने में शिव मंदिर क्यों आते है.

सपने में शिव मंदिर देखना , सपना आने का क्या परिणाम हो सकता है.और असल जीवन में सपने में शिव मंदिर देखने का क्या प्रभाव पड़ता है. इसके शुभ व अशुभ फल के बारे में जानेंगे इसके बारे में संपूर्ण जानकारियों को विस्तार पूर्वक पढ़ेंगे

स्वप्न शास्त्र के अनुसार दोस्तों सपने में शिव मंदिर का दिखाई देना किस बात की और संकेत करता है इसके बारे में हम जानने वाले है सपनों का लेना देना हमारे जीवन से जुड़ा होता है इसमें कोई संदेह नहीं है कि हमें सपनों का फल नहीं मिलता है सपने में अगर आप किसी भी प्रकार की वस्तु , मंदिर, भगवान, या फिर आप किसी भी तरह की कोई वस्तु को अपने सपने में देखते है तो उसका क्या मतलब होगा इसके बारे में हम आपको बताएंगे लेकिन उससे पहले आपसे यह निवेदन है की आप इस पोस्ट को पूरा अंत तक जरूर पढ़िए ताकि आपको सब स्पष्ट रूप से समझ पाए अपने सपनों के बारे में जिसका अर्थ अवश्य रूप से आपको जानना चाहिए

सपने में शिव मंदिर देखने का क्या मतलब होगा इसके बारे में आपको जानकारी मिल पाए । सपनों का मतलब जानने के लिए इस पोस्ट को पूरा जरूर पढ़िए आइए जानते है कि सपने में शिव मन्दिर देखने का मतलब क्या होता है।

सपने में शिव मंदिर देखना

सपने में शिव मंदिर देखना
सपने में शिव मंदिर देखना

दोस्तो यदि आप भी अपने सपने में शिव मंदिर देखते है तो इसका मतलब है कि आप पर साक्षात् भगवान शिव का आशीर्वाद स्वरुप हाथ है उनके ऊपर जो सपने में शिव जी का मंदिर देखते है। यहाँ सपना आपके घर परिवार में आने वाले एक शुभ और सकारत्मक ऊर्जा का प्रतिक है, जो आपको एक सुभ , सुख , खुशहाल संकेत देता है

सपने में शिव मंदिर देखना एक बहुत ही अच्छा सपना माना गया है । अगर यह सपना कोई स्त्री वर्ग या कोई पुरुष वर्ग देखता है तो जल्द ही उनके पास कहीं से धन संबंधी लाभ की प्राप्ति होने वाली है । और इतना ही नहीं

आपके जीवन से परेशानियां खत्म होंगी, हर तरह की बिमारियों से छुटकारा मिलेगा और आपकी हर मनोकामना पूरी होंगी।

सपने में भगवान शिव का मंदिर देखना काफी शुभ माना गया है।

यदि यह सपना किसी ऐसे जातक ने देखा है जो शादीशुदा है तो इसका अर्थ बदल जायेगा। शादीशुदा दंपति जीवन में यहाँ सपना एक नए मेहमान की प्राप्ति हो सकती

शादीशुदा व्यक्ति का सपने में भगवान शिव के मन्दिर को देखने का अर्थ सीधा और साफ यहाँ निकल के’आता है की जल्द हीआपको संतान सुख की प्राप्ति होने वाली है।

यदि यहीं सपना एक बीमार व्यक्ति देखता है तो उसकी सारी बीमारियां खत्म हो जाएंगी।

सपने में भगवान शिव को देखने का मतलब

सपने में भगवान शिव को देखने का मतलब
सपने में भगवान शिव को देखने का मतलब

दोस्तों हमारा यह वेबसाइट पर आपको इसी तरह के कई सारे सपनों से जुडी सपनों के मतलब , परिणाम , अर्थ समझाने के लिए ही लिखा गया है जिसका उद्देश्य सही जानकारियों को आप तक पहुंचना है. जिससे आप अपने सपनो के प्रति सचेत रहें

ताकि आपको अपने आने वाले समय के संकेतों के बारे में समझाया जा सके और आप अपने भविष्य को लेकर सतर्क हो सके।

सपनों के अर्थ शुभ भी होते है और अशुभ भी। यहाँ हमारे दैनिक जीवन से जुड़े होते है. जो आने वाले समय को दर्शते है.
कुछ सपने दरिद्रता लाते है तो कुछ किस्मत के दरवाजों को भी खोल देते है।

तो आज का हमारा टॉपिक है, सपने में देवों के देव महादेव, शिव या भोलेनाथ को देखना। जैसा कि भगवान शिव के नाम से ही ह्रदय पवित्र हो जाता है,

उसी तरह उनका सपना देखने पर भी हमारी जिंदगी से दुख दूर हो जाते है।

भगवान शिव का सपना देखने के बाद हमारे दिल में एक तरह की प्रसन्नता फैल जाती है। की आज हमने भगवान शिव को देख लिया

और हमें यह एहसास होता है कि यह सपना आने का अवश्य ही कोई न कोई विशेष कारण है।

ज्यादातर यह सपना उन्हें आता है जो भगवान शिव के भक्त है या भगवान शिव को काफी प्रिय है।

यदि आपने सपने में भगवान शिव को देखा है तो यह अत्यंत ही शुभ सपना है।

सपने को देखने के बाद आपको भगवान शिव के मंदिर जाकर शिवलिंग पर दूध चढ़ाना, उनकी रोज पूजा करना और दर्शन करना अनिवार्य हो जाता है।
क्योंकि उनका स्वप्न में आना कोई मामूली बात नही है दोस्तों

तो चलिए जानते है कि भगवान शिव से जुड़े हर प्रकार के सपनों और उसके फल, परिणाम के बारे में।

इन्हे भी पढ़े – बिटकॉइन क्या है

सपने में शिवजी को देखना

सपने में शिव जी को देखना शिव भगवान जिन्होंने विश्व के कल्याण के लिए विष पी लिया था. जो तीन देवो में से एक है। इन्हें देवों के देव महादेव भी कहा जाता है जिनके 108 नाम है

वे सृष्टि के संहारकर्ता है। शिव का अर्थ यद्यपि कल्याणकारी माना गया है,

लेकिन वे हमेशा लय एवं प्रलय दोनों को अपने अधीन किए हुए हैं। 

यदि शिव जी ने सपने में आपको दर्शन दिए है

तो इसका मतलब की या तो आप उनके भक्त है या वे आपसे अत्यधिक प्रसन्न है।

उनका सपने में दर्शन देना कोई छोटी बात नहीं है।

उनके हजारों लाखों भक्तों में से कुछ ही ऐसी किस्मत वाले होते है जिन्हें उनके दर्शन होते है।

यदि आपने सपने में शिव जी को देखा है या शिव जी के दर्शन किये है, तो आपको ख़ुश जो जाना चाहिए,

क्योंकि यह सपना अत्यंत ही शुभ माना जाता है।

यदि आप इन दिनों किसी बड़ी समस्या से जूझ रहे थे या आपका कोई बुरा वक्त चल रहा था तो यह सपना आपके उस बुरे समय के खत्म हो जाने का संकेत है।

फिर चाहे वह परेशानी पारिवारिक मामलों की हो, करियर से जुड़ी हो, वैवाहिक हो या व्यक्तिगत हो।

क्योंकि शिव से ही सभी तरह के बुरे दोषों, बुराइयों और कष्टों का अंत होता है।

जहां शिव है वहां सुखी संसार है।

तो दोस्तों सपने में शिव जी को देखना आपके बुरे समय का अंत होने का संकेत है और

साथ ही साथ आपको कई तरह के सांसारिक सुखों की भी प्राप्ति होगी।

कुल मिलाकर सपने में शिव जी को देखना अत्यंत ही शुभ और लाभकारी माना गया है।

सपने में शिवलिंग देखना या सपने में शिवलिंग पर जल चढ़ाना

सपने में शिवलिंग देखना या सपने में शिवलिंग पर जल चढ़ाना
सपने में शिवलिंग देखना या सपने में शिवलिंग पर जल चढ़ाना

सपने में शिवलिंग देखना या सपने में सफेद शिवलिंग देखना भी उतना ही शुभ है जितना सपने में शिव जी को देखना।

इस सपने का फल भी वैसा ही है जैसा सपने में शिव जी को देखने से मिलता है।

सपने में शिवलिंग देखना पिछले जन्म का संकेत देता है, यानी आप पिछले जन्म में शिवभक्त थे।

एक ओर जहां सपने में शिव जी को देखने से दुखों का अंत होता है, वहीं शिवलिंग को देखने से आपके अच्छे समय की शुरूआत होती है।

यदि आपने सपने में खुद को शिवलिंग पर जल चढ़ाते देखा है, और यदि वह जल सामान्य जल है तो इसका मतलब है की जल्द ही आपका अच्छा समय शुरू होने वाला है।

यह आपके सुखी और समृद्ध जीवन की और इशारा करता है, साथ ही साथ अच्छे समय का मतलब कुछ भी हो सकता है

लेकिन ज्यादातर मामलों में सपने में शिवलिंग को देखने का मतलब आर्थिक सुधार से होता है।

यानी आपको अचानक कहीं से धन प्राप्त हो सकता है और यदि आपका धन कहीं लम्बे समय से अटका हुआ है तो वह भी आपको जल्द ही मिल सकता है।

कुल मिलाकर यह सपना आपको आने वाले समय बहुत सारा आर्थिक लाभ दे सकता है।

सपने में शिव जी का तांडव देखना

यदि आप सपने में शिव जी को तांडव करते देखे तो इसका भी वैसा ही फल प्राप्त होगा जैसा की शिवलिंग देखने पर होता है।

यह भी मुश्किल समय के अंत और धन प्राप्ति की ओर इशारा करते है।

सपने में शिवलिंग पर दूध चढ़ाते देखना

यदि हाल ही में आपकी कोई मनोकामना पूरी हुई है और उसके बाद यदि आप सपने में शिवलिंग पर दूध चढ़ाते हुए खुद को देखते है

तो इसका सीधा सा यह मतलब है कि आपने अपनी मनोकामना पूरी होने के बाद शिवलिंग की पूजा नहीं की है।

इसलिए यह सपना देखने के बाद आपको तुरंत मंदिर जाकर शिवलिंग पर दूध चढ़ाकर दीपक लगाना चाहिए।

क्योंकि शिव जी अपने भक्तों की हर मनोकामना पूरी करते है, हम पर उनकी कृपा बनी है तो हमें भी इसके लिए उनकी पूजा करना अनिवार्य होता है।

यदि आप सपने में गंगाजल चढ़ा रहे है तो इसका मतलब है कि आपकी आध्यात्मिकता में रुचि बढ़ेगी।

सपने में शिव जी की पूजा करना

यदि आप सपने में शिव जी की पूजा करते है तो यह अत्यंत ही शुभ फलदायी है।

शिव जी आपकी परेशानियों को दूर करेंगे और आपकी सभी मनोकामनाएं पूर्ण होंगी।

यह सपना देखने के बाद आपको शिव जी की पूजा करनी चाहिए।

क्योंकि शिव जी की आप पर कृपा बनी है और उन्होंने आपके लिए ख़ुशियों के रास्ते खोल दिए है।

या यूं कहें तो आपके लिए शुभ समय की शुरुआत हो चुकी है।

सपने में शिव जी का सांप देखना

यदि जातक सपने शिव जी का सांप देखता है तो यह इशारा करता है कि भविष्य में आपको अधिक धन लाभ होगा।

यदि वह साँप फन फैलाये है तो भी यह काफी शुभ फल देने वाला होता है।

इसका यह भी अर्थ है कि आप पर नाग देवता का आशीर्वाद बना है।

सपने में शेर देखना

सपने में शिव जी की मूर्ति को देखना

यदि आपने सपने में भगवान शिव की मूर्ति को देखा है तो यह एक बहुत ही शुभ संकेत है।

इसका अर्थ है कि आने वाले समय मे आपको प्रचुर मात्रा में धन की प्राप्ति होंगी

आपके कार्यों में बहुत सफलता मिलेगी और आपके परिवार में खुशियों का आगमन होगा।

इसी के साथ आपके जीवन मे सकारात्मक ऊर्जा का संचार होगा।

सपने में शिव जी का परिवार देखना

सपने में शिव जी का परिवार देखने का अर्थ आपके परिवार में सुख शांति का प्रतीक है,

ऐसे सपने का यह अर्थ भी है कि आपके परिवार में किसी तरह का मांगलिक योग बन रहा है।

यदि यह सपना कोई विवाहित स्त्री देखती है तो उसे जल्द ही सन्तान की प्राप्ति होगी।

सपने में शिव जी के नन्दी देखना

नन्दी भगवान शिव के वाहन और उनके निवास स्थान कैलाश के द्वारपाल है।

भगवान शिव के हर मंदिर में नन्दी को भी प्रतिष्ठित किया जाता है।

यदि आपने सपने में शिव जी के नन्दी को देखा है तो यह एक बहुत ही अच्छा सपना माना जाता है।
बैल सम्पन्नता का प्रतीक होता है।

यह सपना आपको सम्पन्नता धन लाभ और अच्छी फसल होने के संकेत देता है।

सपने में शिव जी का त्रिशूल देखना

शिव जी का त्रिशूल एक बहुत ही पवित्र और विशेष अस्त्र माना गया है।

यह शक्ति का प्रतीक भी है।

इस तरह का सपना आपके पूर्व जन्म, इस जन्म और अगले जन्म से होता है।

यदि आपने सपने में शिव जी के त्रिशूल को देखा है तो इसका मतलब है कि आपके जीवन के हर तरह के संकटो का नाश होगा।

भगवान शिव का यह पवित्र त्रिशूल आपको अपनी समस्याओं से लड़ने की शक्ति प्रदान करता है।

सपने में शिव पार्वती को एक साथ देखना

यदि आपने सपने में भगवान शिव पार्वती के दर्शन किये है

तो इसका मतलब यह है कि नए अवसर आपके दरवाजे पर दस्तक देने वाले है।

आपको जल्द ही धन लाभ होगा और आर्थिक रूप से लाभ की खबर मिल सकती है।

यदि यह सपना कुँवारा लड़का देखता है तो इसके जल्द से जल्द शादी होने के योग बन रहे है।

और यदि कुँवारी लड़की सपने में शिव पार्वती को देखती है तो उसके भी शीघ्र विवाह के योग बन रहे है।

यदि यह सपना ऐसे पति पत्नी देखते है …

जिनका कोई आपसी विवाद चल रहा है तो यह उस झगड़े के खत्म होने का संकेत है।

आप दोनों में प्रेम बढ़ेगा और यदि आपकी हाल ही में शादी हुई है

तो आपका आपसी तालमेल बढ़ेगा और आपकी जोड़ी मधुर बनेगी।

यदि किसी जातक ने सपने में अर्धनारीश्वर की मूर्ति को देखा है तो यह भी नए अवसरों और धन लाभ के अवसरों के आने का संकेत है।

कुल मिलाकर सपने में भगवान शिव पार्वती को साथ साथ देखना बेहद ही अच्छा शकुन माना गया है।

सपने में शिव जी की तीसरी आँख देखना

भगवान शिव की तीसरी आँख की बात आये तो सबसे पहले उनका प्रचंड क्रोध याद आता है, क्योंकि जब जब वे किसी से नाराज़ होते है और उसे श्राप देना चाहते है

तब उनकी तीसरी आँख खुलती है और तबाही मचा देती है।

लेकिन यदि आपने अपने सपने में भगवान शिव की तीसरी आँख को देखा है तो आपको घबराने की कोई आवश्यकता नहीं है।

भगवान शिव की तीसरी आँख सतर्कता और जागरूकता के विषय मे बताती है।

सपने में शिव जी की तीसरी आँख के दर्शन आपको अपनी जिंदगी में महत्वपूर्ण बदलाव की ओर इशारा करती है।

सपने में शिव जी का चांद देखना

भगवान शिव की जटाओं के बीच दूधिया रंग में चमचमाता चाँद अपने आप मे ही मनमोहकता लिए होता है।

चाँद मन का कारक और ज्ञान का प्रतीक माना जाता है।

इस तरह का सपना आपको ज्ञान सम्बन्धी कार्यों से जोड़ता है।

इस तरह का सपना जब भी आता है तो इसका मतलब है कि आप जल्द ही बड़ा फैसला लेने वाले है।

यह फैसला किसी भी तरह का हो सकता है।

यह विवाह से सम्बंधित हो सकता है ,

व्यापार से सम्बंधित हो सकता है और यदि आप एक विद्यार्थी है और यह सपना देखते है तो यह आपकी शिक्षा से सम्बंधित हो सकता है।

यदि आप किसी तरह की परीक्षा की तैयारी कर रहे है तो यह सपना उस परीक्षा में सफलता को दर्शाता है।

सपने में शिव जी का डमरू देखना

सपने में शिव जी का डमरू देखना एक पवित्र सपना फल माना गया है। यहाँ आपके जीवन में नयी गति सकारात्मकता ऊर्जा का संकेत देता है आप सपने में शिव जी का डमरू देखते है तो आपको जल्दी ही आपके कार्य में सफलता मिलने वाली है, कार्य में आ रही बाधाएं दूर हो जाएंगी नरकारत्मकता ख़तम हो जाती है

डमरू ध्वनि का प्रतीक होता है। इसका मतलब है कि आपके जीवन मे सकारात्मकता आएगी और सकारात्मक ऊर्जा का संचार होगा।

निष्कर्ष

दोस्तों हम उम्मीद करते है की आपको आज का हमारा यह आर्टिकल सपने में शिव मंदिर देखना, Sapne Main Shiv Mandir Dekhna.अच्छी तरह से समज में आया होगा और मुझे यकीन है की आपको इस आर्टिकल को पढ़कर काफी आसान और सरल , शब्दो में जानकारी मिली होगी.

यदि आपको हमारा यह आर्टिकल सपने में शिव जी का मंदिर देखना, सपने में शिवलिंग देखना क्या है. पसंद आया है तो आप इसे अपने दोस्तों और अपने सोशल मीडिया पर शेयर जरुर करे. जिससे वह लोग भी इस जानकारी का फायदा उठा सके और यह जान सके धनयवाद. 

Sharing Is Caring:

Leave a Comment