पानी जल पर कविता हिंदी । जल ही जीवन है कविताएं । Poem On Water In Hindi

4/5 - (11 votes)

आप सभी जल संरक्षण प्रेमी को मेरा नमस्कार आप सभी को पता है कि हमारे मनाव जीवन पानी यानी जल का कितना महत्व है। पानी जिसे अंग्रेजी में Water कहते है।

जो की सही बात है। हम सभी लोग जल को अपने प्रति दिन उपयोग करते है चाहे हमे अपने लिए भोजन बनाना हो या फिर हमें पानी को जानवरों को पिलाना हो या फिर उसी पानी को हम अपने पेड़ में पानी डालने के लिए उपयोग करते हैं।

धरती पर सबसे ज्यादा पानी मौजूद हैं. पृथ्वी का तीन हिस्सा पर पानी मौजूद हैं. लेकिन यह सभी पानी हमारे पीने योग्य नहीं हैं. धरती पर पीने योग्य पानी की मात्रा धीरे – धीरे कम होती जा रही हैं.।

हमारे ही देश में अनेकों ऐसे क्षेत्र हैं. जहाँ पानी मुश्किल से लोगों को मील पाता हैं. वहाँ दैनिक कार्य के लिए भी पानी मुश्किल से लोग जुटा पाते हैं. और कुछ ऐसा क्षेत्र हैं. जहाँ पर पानी की मात्रा पर्याप्त हैं. वहाँ लोग पानी का जरुरत से ज्यादा बर्बाद करते हैं.।

दोस्तों यदि हम लोग जल्दी नहीं समझे तो आने वाले समय में संकट और बढ़तै जायगा. हमें पानी को बर्बाद और प्रदूषित होने से बचाना पड़ेगा.।

सरकार भी जल बचाने के लिए अनेक प्रकार के कार्यक्रम और योजना चलाई हैं. जिससे लोगों को पानी बर्बाद होने से बचाने के लिए जागरूक किया जा सके.

हमारे देश के किसान भाई फसलो को उगाने के लिए पानी का उपयोग करते हैं। साथ ही हमे अगर कपड़े की सफाई करनी हो या फिर अपने घर की सफाई करनी हो पानी की जरूरत पड़ती है। आज में आप को इस पोस्ट में कुछ ऐसे कविता जिसे अंग्रेजी में Poem कहते हैं जो कि पानी के उपर बनाया गया है।

जल-पानी के महत्व पर कविता । Best Poems In Hindi On Water

पानी बचाओ पर कविता । Save Water Poem in Hindi

जल ही जीवन है,
पानी है गुणों की खान,
पानी ही तो सब कुछ है,
पानी है धरती की शान,

पर्यावरण को आज न बचाया गया,
तो वह दिन जल्द ही आएगा,
जब पृथ्वी पर हर एक इंसान,
बस “पानी-पानी” चिलायेगा,

रुपए पैसे धन दौलत,
कुछ भी काम ना आएगा,
यदि इंसान इसी तरह,
धरती को नोच खाएगा,

आने वाली पीढ़ी का,
कुछ तो हम करें खयाल,
पानी के बगैर कल,
कैसे होगा भला खुशहाल,

बच्चे बूढ़े और जवान,
सब पानी बचाएं बने महान,
अब तो जाग जाओ इंसान,
पानी में बसते हैं प्राण|

जल पर कविता । Poem On Water In Hindi

भैया पानी नहीं बहाना
अब घंटे भर नहीं नहाना
पानी बहुत हुआ है महंगा
बड़ा कठिन है पानी लाना
हम सबको है बड़ा जरुरी
धरती का पर्यावरण बचाना ||1||

पानी गन्दा आया नल में,
पिया बीमार हुआ दो पल में
उसको उलटी दस्त हो गए,
हाथ पैर भी लस्त हो गए ||2||

पानी सदा साफ़ पीना है,
स्वस्थ रहो लम्बा जीना है
गन्दा है तो रोज उबालो,
थोड़ा ज़रा फिटकरी डालो ||3||

-प्रभुदयाल श्रीवास्तव

पानी है कितना अनमोल

पानी है कितना अनमोल।
समझो तुम इसका मोल।
ये देता हमको जीवनदान।
बचाकर इसे बनो महान।

यह प्यासे की प्यास बुझाता।
उसके लिए अमृत बन जाता।
जीव जंतु हो या हो इंसान।
इसमें बस्ती सबकी जान।

यह नदियों में बहकर आता।
अंत में सागर से मिल जाता।|
बारिश बन कर वापस आता
हम सबके मन को खूब लुभाता।

बहा कर इसे मत बनो नादान।
यह है हमारी धरती की शान।

_Pooja Mahawar

जल ही जीवन है हिंदी कविता । Poem On Water In Hindi

ना कोई रंग है,ना कोई आकार है,
बुनियाद पर जिसकी,जिंदगी का संसार है,
अनुपम धन है,अनोखी बड़ी कहानी है,
शीतल है, पवित्र है, नाम धराया पानी है।

कहीं बर्फ में, तो कभी बादल में,
तो कहीं ओस बनकर,मोती सा ठहरा,
रुप तो इसके अनेक हैं,
तन-मन को शीतल कर दे,
कार्य भी बड़े नेक है।

ऐसा कोई काम बता दो,
जो इसके बिना संपन्न हो पाए,
जल के बिना तो,
धरा पर भी कम्पन हो जाएं।

व्यर्थ बहाकर हमने जल को,
अगली पीढ़ी का दोषी नहीं कहलाना है,
मिलकर सबने पानी की,
बूंद बूंद को बचाना है।

पानी का काम पानी करता है,
विकल्प न इसका दूसरा कोय,
जल के बिना तो जीवन की,
कल्पना मात्र भी न होए।।

-कीर्ति छाबरा

जल प्रदूषण पर कविता । Hindi poems on water

हमे बचाना है बचाना है,
जल को प्रदुषण से बचाना है,
कूड़े कचरे को रखके दूर,
हमे पानी गंदा होने से बचाना है।

पवित्र इन नदियों को गंदा बनाया है,
कारखाने की गंदगी को जल में मिलाया है,
मानव तू क्यों इतना क्रूर बना,
तूने पानी को ज़हर बनाया है।

जब जल ही दूषित हो जाए,
बिमारी को घर ले आए,
डेंगू मलेरिया घर में ही जन्मा है,
ये सबको बीमार बनाएं।

जब हो जाए जहरीली हवाएं,
तब बादल भी दूषित बारिश बरसाएं,
खेतों में लहराती हुईं फसलें,
इस पानी से मुर्झा के मर जाए।

जल ही तो है हम सबका जीवन,
जल ख़त्म इस धरती का अंत है,
हमे बचाना है बचाना है,
जल को प्रदुषण से बचाना है।

जल और जीवन पर सुंदर कविता । Poem On Water In Hindi

काश ये जीवन मेरा
जल के जैसा हो जाए
जिस के संग रहे
उस में ही ये ढल जाए

सब में समा कर के
पहचान अपनी भुलाता है
खुद को मिटा कर के
औऱ़ो को बनाता है

जब जब दूध को पकाया है
पानी ने खुद को जलाया है
दूध का गुणगान हुआ
पानी को सब ने भुलाया है

जलती ज्वाला ये बुझा दे
सब को ये शीतल बना दे
कभी रुको ना तुम जीवन में
पानी सब को गतिशील बना दे

खुद मिटता रहा सदियों से
या मिटा रहे है हम सब मिलकर
कुछ तो विचार करो इस पर
ये बहता रहे सदा झरझर

जल बिन क्या हम जी पाएंगे
अपने बच्चों की विरासत
को हम क्या नहीं बचाएंगे
धन दौलत रखी रह जाएगी
जल बिन सूनी दुनिया हो जाएगी।

बचा लो इसको
इसका कुछ तो ख्याल करो
अपना नहीं तो अपने बच्चों
का विचार करो। ।

-नीलम गुप्ता

पानी पर बेहतरीन कविता । Poem on Water in Hindi

पानी है जीवन की धार
जिस से जुड़ा है सबका संसार।

पानी बिना हो जाएंगे वीरान ।
नदी नाले और खेत खलिहान।

बूंद बूंद मत करो बेकार
इनसे जुड़ी है खुशियां अपार।

ये जीवन का आधार
ये जीवन का आधार।

_Pooja Mahawar

जल संरक्षण पर कविताएं । Save water poem in hindi

जल संरक्षण करना सबको सिखलाए,
जल बचाने के नए तरीके आजमाएं।
जब जब बारिश का मौसम आए,
बारिश के पानी को हम बचाएं।

छत पर पानी इकट्ठा हो जाए,
रैन वॉटर हार्वेस्टिंग तरीका आजमाएं।
गांव शहर में तालाब बनवाए,
बारिश का पानी उसमे मिल जाए।

बुरी आदतों को हम दूर भगाए,
बिना व्यर्थ हम पानी ना गवाएं।
ब्रश करो नल खुला ना छूट जाए,
बच्चों को अच्छी आदतें सिखलाए।

गंदगी पानी में ना मिल जाए,
पानी को प्रदुषित होने से बचाएं।
कूड़ा कचड़ा कूड़ेदान में जाए,
तभी पवित्र हमारी नदिया कहलाए।

मिलकर जल का महत्त्व समझाए,
जल है जीवन तभी ये अमृत कहलाएं।
जल संरक्षण करना सबको सिखलाए,
जल बचाने के नए तरीके आजमाएं।

मेरा नाम हैं… जल । पानी पर एक रोचक कविता । Poem on Water in Hindi

मेरा नाम है जल
जुड़ा है मुझसे सबका कल।

मैं लोगों की प्यास बुझाता
उनके लिए अमृत बन जाता।

नदियों में भी बहता जाता
तालाबों में मैं लहराता।

खलिहानों में भी मैं जब जाता
खेत भी हरा भरा हो जाता।

कल कल करके बहता जाता
सभी जीवो से मेरा नाता।

बादलों से गिरकर में बरस जाता
सबके आंगन खुशियां फैलाता।

सर्दी है जब ज्यादा पड़ती
बर्फ के रूप में मैं जम जाता।

बहकर पहाड़ों से मैं आता
अंत में सागर से मिल जाता।

_Pooja Mahawar

जल है जीवन का आधार । Water is life Poem in Hindi

जल है जीवन का आधार
जल को न फेंको बेकार
जल से ही सब जीवन पाते
जल बिन जीवित न रह पाते,

जल को क्यों फिर व्यर्थ बहाते
बात सरल सी समझ न पाते
बदल भाप अम्बर में जाता
मेघो के घर में भर जाता,

वर्षा में धरती पर आता
धरती से अम्बर तक जाता
यही निरंतर चलता रहता
यही जल चक्र कहलाता!

-डॉ० अनामिका रिछारिया

पानी है कितना अनमोल पर कविता Poem on water in hindi

पानी है कितना अनमोल,
जान लो तुम इसका मोल,
पानी बिना धरती है सुनी,
बिन पानी जीवन का नहीं है मोल।

पानी से ये धरती बनी,
पानी से बने हम और तुम,
पानी से हरियाली यहां,
बिना पानी यहां सब गुम।

पानी नहीं रहे धरती पर,
सुखा पड़ जाए इस धरती पर,
ना रहें कोई जीवित यहां,
शमशान बन जाएगा इस धरती पर।

नदिया समंदर सब पानी तो है,
तभी खेतों में हरियाली तो है,
अन्न तभी तो मिलता है हमे,
बिन पानी के सब वीरानासा है।

पानी से जीवन है प्यारे,
पानी से जीवित है सारे,
पानी है कितना अनमोल,
जान लो तुम इसका मोल।

मै जल हूं जीवन जल । Water is life Poem in Hindi

मै जल हूं जीवन जल
कहते है मुझे गंगाजल
आधार हूं तेरी काया की
धार हूं तेरे बहते खून की
निर्मल हूं स्वच्छ हूं पवित्र हूं
स्थिर हूं , उठती लहर भी हूं
मै जीवन जल हूं।

परमात्मा की देन हूं
कमंडल मेरा स्रोत है
ना कोई रंग है ना रूप है
उदासीन हूं एक माध्यम हूं
मै विज्ञान नहीं , विज्ञान मुझसे है

मै उत्पत्ति हूं जीवों की
मै जननी हूं मिट्टी की
प्यास हूं मै घटा की
चीर हूं मै जलधर की
दर्पण हूं मै चांद की
ठंडक हूं मै जलती अग्नि की।

नाता रिश्ता सब तेरा मुझसे है
फिर भी तू मुझे गंदा करता है
बरबाद करता प्रतिदिन है
जन्म हुआ तेरा गर्भ के पानी से

विसर्जित होंगी तेरी अस्थि भी पानी में
तू मुझसे ही तो मूलभूत बना है
वरना तेरा कोई अस्तित्व ही नहीं
मेरा अस्तित्व खतरे में डालकर
क्या तू जिंदा रह पाएगा?

-अनु सिंह

ज्यों निकल कर बादलों की गोद से । Save Water Poems In Hindi

ज्यों निकल कर बादलों की गोद से
थी अभी एक बूँद कुछ आगे बढ़ी
सोचने फिर फिर यही जी में लगी
आह क्यों घर छोड़कर मैं यों बढ़ी

दैव मेरे भाग्य में क्या है बढ़ा
में बचूँगी या मिलूँगी धूल में
या जलूँगी गिर अंगारे पर किसी
चू पडूँगी या कमल के फूल में

बह गयी उस काल एक ऐसी हवा
वह समुन्दर ओर आई अनमनी
एक सुन्दर सीप का मुँह था खुला
वह उसी में जा पड़ी मोती बनी

लोग यों ही है झिझकते, सोचते
जबकि उनको छोड़ना पड़ता है घर
किन्तु घर का छोड़ना अक्सर उन्हें
बूँद लौं कुछ और ही देता है कर

जल ही जीवन है । Save Water Poems in Hindi –

जल ही जीवन है
जल से हुआ सृष्टि का उद्भव जल ही प्रलय घन है
जल पीकर जीते सब प्राणी जल ही जीवन है।।

शीत स्पर्शी शुचि सुख सर्वस
गन्ध रहित युत शब्द रूप रस
निराकार जल ठोस गैस द्रव
त्रिगुणात्मक है सत्व रज तमस
सुखद स्पर्श सुस्वाद मधुर ध्वनि दिव्य सुदर्शन है ।
जल पीकर जीते सब प्राणी जल ही जीवन है ।।

भूतल में जल सागर गहरा
पर्वत पर हिम बनकर ठहरा
बन कर मेघ वायु मण्डल में
घूम घूम कर देता पहरा
पानी बिन सब सून जगत में, यह अनुपम धन है ।
जल पीकर जीते सब प्राणी जल ही जीवन है ।।

नदी नहर नल झील सरोवर
वापी कूप कुण्ड नद निर्झर
सर्वोत्तम सौन्दर्य प्रकृति का
कल-कल ध्वनि संगीत मनोहर
जल से अन्न पत्र फल पुष्पित सुन्दर उपवन है ।
जल पीकर जीते सब प्राणी जल ही जीवन है ।।

बादल अमृत-सा जल लाता
अपने घर आँगन बरसाता
करते नहीं संग्रहण उसका
तब बह॰बहकर प्रलय मचाता
त्राहि-त्राहि करता फिरता, कितना मूरख मन है ।
जल पीकर जीते सब प्राणी जल ही जीवन है ।।

शास्त्री नित्यगोपाल कटारे

पानी पर कविता–सदा हमें समझाए नानी । Pani Par Kavita

सदा हमें समझाए नानी,
नहीं व्यर्थ बहाओ पानी ।
हुआ समाप्त अगर धरा से,
मिट जायेगी ये ज़िंदगानी ।

नहीं उगेगा दाना-दुनका,
हो जायेंगे खेत वीरान ।
उपजाऊ जो लगती धरती,
बन जायेगी रेगिस्तान ।

हरी-भरी जहाँ होती धरती,
वहीं आते बादल उपकारी ।
खूब गरजते, खूब चमकते,
और करते वर्षा भारी ।

हरा-भरा रखो इस जग को,
वृक्ष तुम खूब लगाओ ।
पानी है अनमोल रत्न,
तुम एक-एक बूँद बचाओ ।

श्याम सुन्दर अग्रवाल

अमृतधारा सा पानी । Pani Par Kavita

पानी पानी पानी,
अमृतधारा सा पानी
बि‍न पानी सब सूना सूना
हर सुख का रस पानी

पावस देख पपीहा बोल
दादुर भी टर्राये
मेह आओ ये मोर बुलाये
बादर घि‍र-घि‍र आये
मेघ बजे नाचे बि‍जुरी
और गाये कोयल रानी।

रुत बरखा की प्रीत सुहानी
भेजा पवन झकोरा
द्रुमदल झूमे फैली सुरभि‍
मेघ बजे घनघोरा
गगन समन्दनर ले आया
धरती को देने पानी।

बाँध भरे नदि‍या भी छलकीं
खेत उगाये सोना
बाग बगीचे, हरे भरे
धरती पर हरा बि‍छौना
मन हुलसे पुलकि‍त तन झंकृत
खुशी मि‍ली अनजानी।

उपवन कानन ताल तलैया
थे सूखे दि‍ल धड़कें
जाता सावन ज्योंलही लौटा
सबकी भीगी पलकें
क्या बच्चे क्याै बूढे नाचे
सब पर चढ़ी जवानी।

पानी पानी पानी।

पानी जल पर कविता – Poem On Water Hindi । पानी जल पर की कविताएँ आप सब को कैसे लगी कमेंट कर के जरूर बताये और अपने मित्रों संग शेयर जरूर करे

Leave a Comment