KYC क्या है | Kyc कैसे करते है | What is KYC in Hindi | Full Form of kyc | eKYC in Hindi

Rate this post

KYC क्या है : आपको कभी ना कभी के वाय सी (Kyc) करवाने की जरुरत पडी होगी, ya kyc शब्द कही न कही जरूर सुना होगा। तो जानिए KYC क्या है. केवाईसी क्या होता है या केवाईसी का मतलब क्या दोस्तों इसके नाम में ही छिपा है KYC Full Form In Hindi “Know Your Customer” होता है। KYC का प्रयोग बैंक अपने ग्राहकों के पते और पहचान के लिए किया जाता है। परन्तु कई लोगों को KYC Kya Hai इस बारे में पता तक नहीं होता है। आज के समय में लगभग सभी लोगों के बैंक खाते जरूर होते है। बैंक या किसी भी Financial क्षेत्र में जैसे Paytm App , Bhim pe , और अन्य ऐप में लेन देन करने के लिए या क्रिप्टोकोर्रेंसी ऐप में bitcoin खरीदने के लिए इन सुविधाओं से जुड़ने के लिए KYC बहुत ही आवश्यक है, कई ऐप में यहाँ मेंडेटरी होता है, साथ ही यह एक बहुत ही अहम प्रक्रिया है। जिससे हम बैंकों , और पेमेंट ऐप द्वारा उपलब्ध कराई जाने वाली सभी प्रकार की सुविधाओं का फायदा भी उठाते है।

Full Form

KYC Ka full form “know your customer” है।

जानिये what is KYC in Hindi.

KYC क्या है | Kyc कैसे करते है | What is KYC in Hindi | Full Form of kyc | eKYC in Hindi
what is KYC in Hindi.

KYC क्या है ?

know your customer को know your client से भी जाना जाता है। इसका सीधा सा मतलब है, अपने customer को जानना।

Regulation का यह rule पूरी दुनिया में है. और India में RBI (Reserve Bank of India) ने KYC की guidelines दी है।

इसमें Bank आप से आपकी identity और address की information आप से मांगती है।

यह process सुनिश्चित करती है, की bank की services का misuse ना हो।

आप जब bank में अपना खाता खुलवाते है, तब KYC की प्रोसेस की जाती है. और यह प्रक्रिया compulsory है।

एक बार document देने के बाद भी, बैंक के record update करने के लिए आप से document मांग सकती है। आगे जानिये need of KYC kya hai.

क्यों KYC जरूरी है?

Money laundering जैसी illegal activity किसी भी देश की economy को असर करती है.

ऐसी और कई illegal चीजो को रोकने के लिए KYC की जाती है।

Black money को नियंत्रण में करने के लिए मदद मिलती है।

कई सारे fraud को रोकने के लिए यह ज़रूरी हो जाता है. Know your customer को कई सालो से practice में लाया गया है।हर एक को इसका पालन करना ज़रूरी है।

बिना KYC किये आप Bank account या mutual fund account नहीं खुलवा सकते है।

इसका मुख्य उद्देश्य यह है की, कोई वास्तविक व्यक्ति ही खाता खुलवाए नाकि कोई काल्पनिक नाम से खाता खुलवाए।

कहा KYC की जरूरत पडती है?

  • Bank में खता खुलवाने के लिए।
  • mutual fund में खता खुलवाने के लिए।
  • Bank locker के लिए
  • Stock market demat या trading account खोलने के लिए
  • भुगतान ऐप में व्यपारियों के लेन देन के लिए
  • ऐप से crypto treding में Kyc की आवश्यकता होती है
  • दूसरे bank में FD करवाने के लिए।

Mutual fund में invest करने के लिए भी आप को यह प्रोसेस करनी ज़रूरी है.

और mutual fund investment में यह प्रोसेस SEBI (Securities and Exchange Board of India) के द्वारा नियंत्रण की जाती है.

जो व्यक्ति mutual fund में निवेश करना चाहता है, उसे KRA (KYC registration Agency) के पास KYC करवाना पड़ता है।

2012 के पहले mutual fund में निवेश करने के लिए आप को PAN detail देनी जरूरी थी, लेकिन अब यह ज़रूरी नहीं है।

Kyc के लिए कोन से document की जरुरत पडती है ?

ID proof

आप आधार कार्ड, पान कार्ड, पासपोर्ट, वोटर ID, driving licence दे सकते है।

Address proof

Electricity bill, landline bill, passport copy, ration card, Voter ID, driving licence दे सकते है।

यहाँ तक आप को What is KYC in Hindi में पता चल गया होगा। आगे जानिये eKYC क्या है.

What is eKYC in Hindi.

Electronic Know your Customer इसका full form है. यह एक paperless Know your customer authentication प्रक्रिया है।

जहा आप की identity और आपका address, Aadhaar के द्वारा electronically verify किया जाता है।

UIDAI (Unique Identification Authority of India) के द्वारा eKYC प्रशासित किया जाता है।

एक बडा फायदा यह है की, आप को SIM card खरीदने के लिए किसी को Document देने की जरूरत नहीं है. आप eKYC के द्वारा mobile sim verification कर सकते है।

कैसे करते है eKYC ?

सबसे पहले आप के पास आधार कार्ड होना चाहिए।

अगर आप को बैंक में खता खुलवाना है, तो बैंक वाले खुद eKYC करते है। अगर आप को paytm के लिए KYC करना है, तो आप को paytm के द्वारा बताये गए agent के पास eKYC करवाना होगा।

Biometric scanner के द्वारा आप की finger print ली जाती है। और mobile based authentication से भी available होता है.

What is eKYC in Hindi. ekyc kya hai , ekyc kyu jaruri hai
What is eKYC in Hindi

जैसे ही आप finger print scan करवाते है, वैसे ही UIDAI आपकी fingerprint को अपने  database में रखी fingerprint से match करता है.

अगर यह सफलता पूर्वक match हो जाती है, तो वह Bank या एजेंट के server पे आप के document जैसे की, photo, address, Date of birth soft copy में send कर  देता है।

Kya hai eKYC के Advantages.

  1. हर कोई eKYC का use नहीं कर सकता, सिर्फ  verified agent या institute ही इसका इस्तेमाल कर सकते है. मतलब आप के documents किसी गलत हाथो में नहीं जाएंगे।
  2. जिस biometric scanner का उपयोग agent करते है, वह UIDAI द्वारा verified होता है, जोकि security में एक और layer add कर देता है।
  3. यह process बहुत fast होता है, जिससे बहुत समय बचता है, और Bank account खोलना और mobile sim verification जल्दी हो जाता है।
  4. यह free में होता है।

आशा करता हु, की आप को KYC kya hai और what is eKYC in Hindi में बहुत कुछ जान्ने की मिला होगा।

निष्कर्ष (हमने क्या सीखा )

KYC का कितना महत्व है (Importance Of KYC) बैंक और पेमेंट कंपनी के लिए तो जरूरी है ही साथ ही यह आपके लिए भी उतना ही जरूरी है। यह इसलिए क्योंकि यदि भविष्य में आपके नाम से कोई और व्यक्ति जालसाजी करता है, तो वह पकड़ा जा सकता है। KYC प्रक्रिया में आप अपना सहयोग अवश्य प्रदान करें, यह आपका कर्तव्य है, और जिम्मेदारी भी।

इस लेख में हमने आपको केवाईसी के बारे में जानकारी जैसे- Meaning of KYC In Hindi और KYC Ka Full Form हिंदी में अत्यंत सरल आसान शब्दों में प्रदान की है। आशा है अब आप जान गए होंगे KYC kya hai, KYC ka Full Form Hindi, KYC Ka Matlab Kya Hota Hai , What is eKYC in Hindi, कहा KYC की जरूरत पडती है, eKYC के Advantages और केवाईसी के लिए किन-किन दस्तावेज़ों की आवश्यकता होती है।

यदि आपको हमारा यह आर्टिकल KYC क्या है | Kyc कैसे करते है | What is KYC in Hindi | Full Form of kyc | eKYC in Hindi. पसंद आया है तो आप इसे अपने दोस्तों और अपने सोशल मीडिया पर शेयर जरुर करे. जिससे वह लोग भी इस जानकारी का फायदा उठा सके और यह जान सके. 

Sharing Is Caring:

Leave a Comment