एंड्रॉइड क्या है ? ( What is Android in Hindi )

Rate this post

दोस्तों हम सभी ने Android यहाँ शब्द के बारे में तो जरूर कभी न काही तो सुना होगा, हम में से अधिकांश लोग एंड्रॉइड स्मार्टफोन (Android Smartphone) का उपयोग कर रहे हैं।

दोस्तों अगर मैं आपसे पुछू कि एंड्रॉइड क्या है ? (What is Android in Hindi) तो आप सीधा सा उत्तर देंगे कि एंड्रॉइड ( Android ) एक प्रकार का फ़ोन है। लेकिन, क्या आप जानते हैं कि एंड्रॉइड क्या है? (What is Android in Hindi)  तो दोस्तों मैं आपको आपके जानकारी के लिए बता दूँ की एंड्रॉइड गूगल का ही अपना पैरेंट कंपनी है जो  Google के द्वारा विकसित एक ऑपरेटिंग सिस्टम (Operating System) है और यह लिनक्स कर्नेल (Linux Kernel) का एक ओपन सोर्स (Open Source) संशोधित संस्करण है। यह मुख्य रूप से स्मार्टफोन (Smartphone) और टैबलेट (Tablet) के लिए बनाया और खास डिज़ाइन गया है। 

दोस्तों आज हम जानेंगे की “Android क्या है? (Android Kya Hai in Hindi) , (What is Android in Hindi) “, “एंड्रॉइड का इतिहास (History of Android in Hindi)“, “एंड्राइड वर्जन क्या है? (What is Android Version in Hindi)“, “एंड्रॉइड की खास विशेषताएं (Features of Android in Hindi)“, “एंड्राइड का वर्तमान संस्करण कौन सा है? (Latest Android Version in Hindi)“ अगर आप जानना चाहते हो कि एंड्रॉइड क्या है ? तो आज की इस पोस्ट में मैं आपको एंड्रॉइड के बारे में बताऊंगा।

हम सभी के घरों में कम से कम 1 (Android Smart Phone) तो अवश्य ही होगा। आजकल Android Phone उपलब्ध है लेकिन ऐसे बहुत कम लोग है जिनको एंड्राइड क्या हैं का सही मतलब भी पता होगा। इसलिए इस पोस्ट में मैं Android in Hindi के माध्यम से आपको Android Kya Hota Hai एंड्रॉइड क्या है ? ( What is Android in Hindi )और Android Ka Matlab Kya Hota Hai और एंड्राइड की खोज किसने की आदि सभी के बारे में सम्पूर्ण जानकारी देने वाला हूँ , अगर आप जानना चाहते हो कि एंड्रॉइड क्या है ? तो आज की इस पोस्ट में मैं आपको एंड्रॉइड के बारे में आगे बताऊंगा। हमारे पोस्ट को ध्यान पूर्वक पढ़े

विषय सूचि

एंड्रॉइड क्या है ? ( What is Android in Hindi )

एंड्रॉइड क्या है - What is Android in Hindi
एंड्रॉइड क्या है – ( What is Android in Hindi )

जैसे ही मैंने एंड्रॉइड का नाम लिया तो आपके दिमाग में सबसे पहले एंड्रॉइड के स्मार्टफोन ( Smartphone ) और टेबलेट ( Tablet ) का ख्याल आया होगा। ऐसा होना स्वभाविक भी है क्योंकि आज ज्यादातर लोगो के पास एंड्रॉइड के ही स्मार्टफोन और टेबलेट है।

अगर आप जानना चाहते हो कि एंड्रॉइड क्या है (What is Android in Hindi) इस पोस्ट को ध्यान पूर्वक पढ़ते रहे जिससे आप जान पाएंगे की आखिर एंड्रॉइड होता क्या है बहुत से लोगो के मन में आज भी यहाँ भ्रम है की Android किसी तरह का कोई एप्लीकेशन है या मोबाइल सॉफ्टवेयर है. तो दोस्तों मैं आपको बता देना चाहता हूँ कि एंड्रॉइड एक प्रकार का मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम ( Operating System – OS ) है जिसको गूगल ( Google ) द्वारा विकसित किया गया।

यह गूगल का ही अपना प्रोडक्ट है। एंड्रॉइड OS लिनक्स ( Linux ) पर आधारित OS है। यहाँ मैं आपको बता देना चाहता हूँ कि जिस प्रकार हमारे कम्प्यूटरो में Windows OS डला होता है उसी प्रकार ज्यादातर मोबाइलो में भी Android OS डला होता है। अगर आप नहीं जानते हो कि OS यानि Operating System होता क्या है ? तो आप हमारी पिछली पोस्ट “ऑपरेटिंग सिस्टम क्या है ?” को पढ़ सकते हो।

Android Inc. का इतिहास | एंड्राइड किसने बनाया

Android Inc. का इतिहास एंड्राइड किसने बनाया
Android Inc. का इतिहास | एंड्राइड किसने बनाया

ज्यादातर लोगो Android Inc. का इतिहास मालूम नहीं होगा कि एंड्रॉइड को गूगल ने बनाया है लेकिन यह बात सही नहीं है। मैंने आपको ऊपर ही बताया कि एंड्रॉइड को गूगल द्वारा विकसित किया गया न कि बनाया गया। आप सोच रहे होंगे कि फिर एंड्रॉइड को किसने बनाया।

तो मैं आपको बता दू कि एंड्रॉइड को अक्टूबर 2003 में संयुक्त राज अमेरिका ( USA ) के कैलिफ़ोर्निया राज्य के पालो आल्टो शहर में चार लोगो ने मिलकर इसे बनाया था। उन चारो का नाम इस प्रकार है – एंडी रूबीन (संस्थापक डेन्जर), रिच माइनर (संस्थापक वाइल्ड फायर कम्युनिकेसन), निक सियर्स तथा क्रिस ह्वाइट (डिजान तथा इन्टरफेस विकास प्रमुख)।

इन्होने मिलकर एंड्रॉइड इनकारपोरेशन (Android Inc.) की स्थापना की। एण्डी रूबीन के शब्दों में उनका उद्देश्य था – “ऐसा चतुर मोबाइल उपकरण बनाना जो अपने मालिक की प्राथमिकता तथा स्थान के बारे में अधिक जानकारी रखते हो”।

एंड्रॉइड का विकास 

17 अगस्त 2005 में गूगल ने एंड्रॉइड इनकारपोरेशन का 50 मिलियन डॉलर में अधिग्रहण कर लिया और इन चारो को कंपनी में कर्मचारी के रूप में काम दिया।

बाद में गूगल द्वारा एंड्रॉइड को बाजार में लाने के बारे में सोचा गया और एंडी रुबिन के नेतृत्व में लिनक्स कर्नेल पर आधारित मोबाइल उपकरण प्लेटफार्म को विकसित किया गया। गूगल ने इसकी मार्केटिंग इस बात पर की कि “वह हैण्डसेट निर्माताओ तथा संचार कंपनियों के बीच इस प्लेटफ़ार्म को लचीला रखेगा और समय – समय पर इस प्लेटफार्म को अपग्रेड करने की सुविधा देगा”।

इसी बात को ध्यान में रखकर एंड्रॉइड ने एचटीसी ( HTC ) के साथ मिलकर 23 सितम्बर 2008 को पहले एंड्रॉइड स्मार्टफोन HTC Dream ( Android 1.0 OS के साथ )

की घोषणा की और 20 अक्टूबर 2008 में HTC Dream ( T-Mobile G1 के नाम से भी इसे जाना जाता है ) को अमेरिका के बाजार में उतारा गया।एंड्रॉइड ने अपना अगला यानि दूसरा वर्जन ( Version – संस्करण ) Android 1.1 जिसको 9 फरवरी 2009 में निकाला।

android version history in hindi

अब तक के इन दोनों वर्जनो को कोई कोड नाम ( Code Name ) नहीं दिया। लेकिन तीसरा जो वर्जन था Android 1.5 जिसको 27 अप्रैल 2009 में निकाला गया उसको Cupcake कोड नाम दिया गया। इसके बाद एंड्रॉइड ने जितने भी वर्जन निकाले उन सभी को एक कोड नाम दिया गया।

अगर देखा जाये तो एंड्रॉइड अब तक कई वर्जन निकल चूका है जिसमे वर्जन के भी वर्जन शामिल है, लेकिन मुख्य रूप से एंड्रॉइड ने 19 वर्जन निकाले है। अभी जो सबसे नया वर्जन है वो है Android OS 12 Snow Cone, जिसको February 18, 2021 को निकाला गया है। एंड्रॉइड के जितने भी वर्जन है उन सभी में एक खास बात है

कि सभी वर्जनो के नाम ( कोड नाम ) खाने की वस्तु के नाम पर रखे गए है। लोगो में एंड्रॉइड के वर्जन को लेकर भी काफी उत्साह रहता कि अगला वर्जन किस वस्तु के नाम पर होगा। एंड्रॉइड के वर्जन में एक और खास बात है कि ये वर्जन अंग्रेजी के अल्फाबेट ( Alphabet – वर्णमाला ) पर आधारित है जैसे

एंड्राइड के संस्करण (Version of Android in Hindi)

Android के अब तक के सभी Version और नाम हमने आपको नीचे लिस्ट के माध्यम एंड्राइड के सबसे पुराने से लेकर एंड्राइड के सबसे लेटेस्ट वर्शन के बारें में बताया है. जिससे आपको Android Version को समझने में आसानी होगी – All Android Version List In Hindi

  • Android 1.0
  • Android 1.1
  • Android 1.5 Cupcake
  • Android 1.6 Donut
  • Android 2.0 Eclair
  • Android 2.2 Froyo
  • Android 2.3 Gingerbread
  • Android 3.0 Honeycomb
  • Android 4.0 Ice Cream Sandwich
  • Android 4.1 Jelly Bean
  • Android 4.4 KitKat
  • Android 5.0 Lollipop
  • Android 6.0 Marshmallow
  • Android 7.0 Nougat
  • Android 8.0 Oreo
  • Android 9 Pie
  • Android 10 Android Q
  • Android 11 Red Velvet Cake
  • Android 12 Snow Cone

Google android के नए-नए वर्जन को नई technology , features और अपने पुराने वर्शन में सुधार के साथ में इन्हे अलग-अलग समय पर लांच करता है। Google लगातार Android Os System Development पर काम करता रहता है और हर साल नए Android Version लौन्च करता आ रहा है।

Google अपने Android Versions के नाम खाने पिने के चीज़ो के मिठाई या Desert ऊपर रखता है. जैसे की Cupcake, Donut, Éclair, Froyo, Gingerbread, Honeycomb, Icecream Sandwich, Jellybean, Kitkat, Lollipop, Marshmallow, Nougat, Oreo इत्यादि।

Android Version 1.0 Alpha

यहाँ android सबसे पहला Version था जिसे 23 सितम्बर 2008 को Release किया गया था। लेकिन उससे लोग ज्यादा इम्प्रेस नहीं हो पाए थे उसके बाद उन लोगो ने उनके ऊपर काफी काम किया और उसमे नए-नए Future ऐड किए।

Android Version 1.1 Beta

यह Android Version 9 फेब्रुअरी 2009 को Release हुआ था जिसमे Massage के Attachment को सेव करने की सुविधा के साथ साथ by Default लॉन्गर इन call time out की सुविधा को जोड़ा गया था।

Android Version 1.5 Cupcake

यह Android Version 27 एप्रिल 2009 को Release हुआ था इसके अंडर आप को Text की फेसिलिटी और Navigation डाला गया था और दूसरा इसके अंडर Large Screen का Option भी डाला गया था।

Android Version 1.6 Donut

यह Android Version 15 सेप्टेम्बर 2009 को Release किया गया जिसमे सबसे पहला Speak Text का Option यानि की उसमे आप बोल के Text लिख सकते थे। उसके बाद HTC का एंड्राइड version भी सबसे पहले 1.6 था।

Android Version 2.0 – 2.1 Eclair

यह Android Version 26 ऑक्टोबर 2009 को Release किया गया था उसमे Navigation पर बहोत Improvement किया गया था। इसके इलावा उसमे Bluetooth का Option भी First time देखने को मिला था। Camera में Flash और Zooming का ऑप्सन भी फर्स्ट टाइम Eclair Version में देखा गया था।

Android Version 2.2  – 2.2.3 Froyo

Froyo Android Version 20 मई 2010 में Release हुआ था यह वर्जन वो था जिसमे आप Mobile को Clean और Optimize कर थे जो की काफी अच्छा ऑप्शन बनाया था।

Android Version 2.3 – 2.3.7 Gingerbread

Android Gingerbread 6 डिसेम्बर 2010 को Release हुआ था उसमे सबसे पहला Skype का Option डाला गया जिस के अंदर लोग एकदूसरे को Call कर सकते थे और uploading का भी ऑप्शन दिया गया था और साथ ही इस में Camera Improvement भी बहोत ज्यादा किया गया था।

Android Version 3.0 – 3.2.6 Honeycomb

यह Android का Version 22 फेब्रुअरी 2011 को लॉन्च किया गया जो की सबसे पहले tablet के लिए आया था। अगर आप लोगों ने टेबलेट लिया होगा तो उसमे Android 3.0 Honeycomb Version देखने को मिला होगा।

Android Version 4.0 – 4.0.4 Ice Cream Sandwich

यह Android Version 18 ओक्टोबर 2011 को launch किया गया था जो की उसके पहले जो version था उसमे ज्यादा Improvements करके Android version Ice-cream Sandwich मोबाइल के लीये डिज़ाइन किया गया था।

Android Version  4.1 –  4.3.1 Jelly Bean

यह Version 9 जुलाई 2012 को Release किया गया और सायद जो सबसे ज्यादा लोगो ने पसंद और Use किया होगा। सबसे बड़ी Improvements देखने को मिली वह हे Smart Touch इसके बाद इसकी क्वालिटी अच्छी कर दी गई और Google Speak Text में भी काफी improvement किया गया था।

Android Version 4.4 – 4.4.4 Kitkat

इस Android Version को 31 ओक्टोबर 2013 को launch किया गया जो Google ने बहोत ही बड़ी Company Nestle को प्रमोट करने के लिए किया गया था। और इसमें फ्यूचर की बात करे तो Productivity Enhancements, HD +, Emoji जैसे कई और फ्यूचर Add किये  गए थे।

Android Version 5.0 – 5.1.1 Lollipop

12 नवम्बर 2014 को यह Android Version को Release किया गया था जिसका नाम Lollipop रखा गया जिसमे बहोत ही ज्यादा New Futures को ऐड किये गए थे जो ख़फ़ी अच्छे थे। बेहतरीन डिजाइन, Colorful Interface और Multitasking ऑप्शन के साथ इसमें Home स्क्रीन में ही साडी Notifications को देख और Cancel भी कर सकते थे।

Android Version 6.0 – 6.0 Marshmallow

Android का यह Version 5 अक्टूबर 2015 को Release हुआ था। ये पिछले Version जैसा ही था दिखने में लेकिन इस वर्जन में कुछ बदलाव किए गए थे। इस में एक अच्छी Security के साथ गूगल सेटिंग एक ही जगह पर दिया गया था और Cut & Pest के ऑप्शन में थोड़ा Improvements करके Users के लिए आसान बनाया गया था। इसके साथ ही आप Quick Setting Menu को भी आसानी से एडिट कर सकते थे।

Android Version 7.0 Nougat

इस Nougat Android 7.0 Version को 22 अगस्त 2016 को market में launch किया गया और साथ ही Nougat Android 7.1.0 – 7.1.2 Version को 4 ऑक्टूबर 2016 को Release किया गया। इस में बहोत सारे Exciting Future मौजूद थे जे पहले नहीं थे।

Android Version 8.0 – 8.1 Oreo

अगर में इस Android Version की बात करू तो यह 5 दिसम्बर 2017 को Release हुआ जो की एक बेहतरीन Android Os update था पहले इसे कुछ ही डिवाइस में इस्तेमाल कर सकते थे बादमे उसे सभी SmartPhone के लिए उपलब्ध करवाया गया।

Android Version  9.0 Pei

अब तक का सबसे Latest Android Version माना जाता है यह 6 अगस्त 2018 को लॉन्च किया गया। इसमें बहोत सरे Exciting Futures है जो इसे खास बनाते है अगर आपके पास Pixel का SmartPhone हो तो आप इस सभी Update का  इस्तेमाल मड़ई आसानी से कर सकते है।

Android Version 10 (Q)

Latest release Android 10 को पहले Android Q नाम से जाना जाता था। Android 10 को चुनिंदा Smartphone के लिए जारी कर दिया गया है और अगल कुछ महीनों में इसे अन्य एंड्रॉयड स्मार्टफोन के लिए भी रोल आउट कर दिया जाएगा। Android 10 Update को फिलहाल Google Pixel स्मार्टफोन, Essential फोन और Redmi K20 Pro (MIUI 10 के साथ) के लिए जारी किया गया है।

Android Version 11 Red Velvet Cake

Android 11 को 8 September 2020 को मार्किट में गूगल का ही अपना फ़ोन Pixel के os के रूप में लांच किया गया था. ऐंड्रॉयड 10 की तुलना में ऐंड्रॉयड 11 बहुत ज्‍यादा अलग नहीं दिखता है, लेकिन गूगल ने इसमें कुछ शानदार फीचर शामिल किए हैं. यहां हम आपको ऐंड्रॉयड 11 में मिलने वाले टॉप 5 फीचर्स के बारे में बता रहे हैं.

1- नोटिफिकेशन हिस्ट्री
ऐंड्रॉयड 11 में मिलने वाला यह फीचर ऐसे यूजर्स के लिए बड़े काम का होगा, जिनसे कोई खास नोटिफिकेशन देखना छूट गया हो. नोटिफिकेशन हिस्ट्री फीचर से आप पिछले 24 घंटे में आने वाले सभी नोटिफिकेशन देख पाएंगे.

2- नेटिव स्मार्ट होम कंट्रोल
ऐंड्रॉयड 11 में नेटिव स्मार्ट होम कंट्रोल फीचर मिलेगा. इसकी मदद से आप अपने फोन से स्मार्ट होम डिवाइस को कनेक्ट करके कमरे का टेम्‍परेचर बदलने और लाइट्स बंद करने जैसे काम कर पाएंगे. कनेक्टेड डिवाइस को देखने और मैनेज करने के लिए आपको पावर बटन को लॉन्‍ग प्रेस (थोड़ी देर तक दबाए रखना होगा) करना होगा. आप इस तरह से Google Pay को भी एक्सेस कर पाएंगे.

3- चैट बबल्‍स
फेसबुक मैसेंजर के चैट बबल को आप यूज कर चुके होंगे या देखे होंगे. अब ऐंड्रॉयड 11 में यह फीचर सभी मैसेजिंग ऐप में मिलेगा. इससे आप बिना ऐप ओपन किए चैट कर पाएंगे. चैट करने के दौरान फोन में कुछ और भी देख सकेंगे या किसी दूसरे ऐप का इस्‍तेमाल भी कर पाएंगे. आप इसे पिन भी कर पाएंगे.

4- ज्‍यादा सिक्‍योरिटी
ऐंड्रॉयड अपडेट्स और सिक्‍योरिटी पैच के लिए अभी आपको अपनी मोबाइल कंपनी के अपडेट का इंतजार करना पड़ता है. मगर अब ऐंड्रॉयड 11 में गूगल ने एक नया फीचर शामिल किया, जो महत्वपूर्ण सिक्‍योरिटी फिक्स को गूगल प्ले स्टोर से आप तक पहुंचा सकता है.

5- स्क्रीन रिकॉर्डर
ऐंड्रॉयड 11 में स्‍क्रीन रिकॉर्डर फीचर भी मिलेगा, यानी अब अलग से स्क्रीन रिकॉर्डर ऐप डाउनलोड करने की जरूरत नहीं होगी. आप अपनी होम स्क्रीन को नीचे स्वाइप करके इसे क्विक सेटिंग्‍स पैनल में एक्सेस कर सकेंगे.

Android Version 12 Snow Cone

Android Version 12 Snow Cone ऑपरेटिंग सिस्टम एंड्रॉइड का लेटेस्ट वर्जन है। यह Google ने एक नया डायनेमिक थीम सिस्टम पेश किया जो आपके फोन के वॉलपेपर से रंगों को अलग-अलग सिस्टम और ऐप UI एलीमेंट के लिए निकालता है. कलर चेंज पूरे ओएस में दिखाई देता है, जिसमें सेटिंग्स, आइकन, क्विक सेटिंग्स टाइल और आपके द्वारा सपोर्ट कंटेंट वाला कोई भी ऐप शामिल है

एंड्रॉइड के बारे में प्रमुख बाते

आपने एंड्रॉइड का हरे रंग का लोगो ( Logo – प्रतिक चिन्ह ) देखा होगा जो आज एंड्रॉइड की पहचान बन चूका है। इस लोगो को ग्राफ़िक डिज़ाइनर इरीना ब्लोक द्वारा 2007 में बनाया गया था।

एंड्रॉइड जैसे मुक्त प्लेटफार्म का विकास ‘ओपन हैण्डसेट एलायंस ( Open Handset Alliance ( OHA )’ नामक संगठन द्वारा किया गया है। आप सोच रहे होगे कि मैंने तो आपको ऊपर बताया था कि ‘गूगल ने एंड्रॉइड का विकास किया’ और अब कह रहा हूँ कि OHA नामक संगठन ने इसका विकास किया।

मैं आपको बता देता हूँ कि ये जो OHA संगठन है इसके 84 सदस्य है, इसमें से गूगल भी एक है। गूगल के अलावा इसमें सैमसंग ( Samsung ), सोनी (Sony ), मोटोरोला ( Motorola ), LG जैसी 84 कम्पनियाँ इसकी सदस्य है। हाँ यह जरूर है कि गूगल एंड्रॉइड का मालिक है लेकिन एंड्रॉइड के विकास में इन सदस्यों का भी कोई कम योगदान नहीं है।

इन कंपनियों के संयुक्त प्रयास से ही एंड्रॉइड प्लेटफार्म दिनों-दिन निखर का सामने आ रही है। एंड्रॉइड के विकास में इन कंपनियों के बीच हुए समझौते का भी विशेष योगदान है। इस समझौते के अंतर्गत “वे हमेशा इस संगठन का सहयोग करेगी और एंड्रॉइड प्लेटफार्म से सम्बंधित डिवाइस ( Device – उपकरण ) का ही उत्पादन करेगी”एंड्रॉइड को मुख्य रूप से टचस्क्रीन ( Touchscreen ) मोबाइल और टेबलेट के लिए बनाया गया था लेकिन आजकल तो एंड्रॉइड की टीवी, घड़ी और कार भी बाजार में आ गई है।

एंड्रॉइड का डेवलपिंग सिस्टम ( Developing System ) बहुत अच्छा है। एंड्रॉइड एक खुला सॉफ्टवेयर है जिसमे कभी भी कुछ भी बदलाव किया जा सकता है। एंड्रॉइड को इस प्रकार बनाया गया है कि इसके लिए एप्लीकेशन बनाने में आसानी हो। एंड्रॉइड OS में आप हर प्रकार के सॉफ्टवेयरो को काम में नहीं ले सकते, यह सिर्फ Apk file को ही सपोर्ट ( Support – समर्थन ) करता है ।

गूगल ने एंड्रॉइड की एप्लीकेशन ( Application ) के लिए अपना एक अलग App Store बनाया है जिसको गूगल प्ले स्टोर ( Google Play Store ) के नाम से जाना जाता है। इस प्ले स्टोर में कोई भी ऐप्प डेवलपर ( App Developer ) अपनी बनाई गई एप्लीकेशन को डाल सकता है, जिसको लोगो द्वारा डाउनलोड किया जाता है। जून 2017 के अनुसार अब तक प्लेस्टोर पर 30 लाख के लगभग एप्लीकेशन उपलब्ध है। एंड्रॉइड डिवाइस ( Device – उपकरण ) को चलाने के लिए जीमेल अकाउंट जरूरी होता है।

एंड्रॉइड के खास फीचर्स

इसमें हमने एंड्रॉइड क्या है ? और एंड्रॉइड के इतिहास के साथ साथ एंड्रॉइड के कुछ खास और अनोखे फीचर्स को भी कवर किया है. जो निचे दिए गए है

1. एंड्रॉयड डिवाइस मैनेजर

दोस्तों अगर एंड्रॉइड के कुछ खास फीचर्स की बात की जाए तो तो उसमें से एक एंड्रॉयड डिवाइस मैनेजर (android device manager) है। यदि आपका एंड्रॉइड स्मार्टफोन खो जाए या फिर चोरी होने के स्थिति में यहाँ एंड्रॉयड डिवाइस मैनेजर (android device manager) की मदद से आप आपना खोया हुआ फोन खुद ही ढूंढ सकते हैं। आपका फोन ढूंढने में आपकी मदद करेगा Google Search। एंड्रॉइड डिवाइस मैनेजर जो आपके खोए हुए फोन की exact लोकेशन आपको बताएगा।

अगर आप अपने smartphone और Computer दोनों Device में एक ही गूगल अकाउंट का इस्तेमाल कर रहे हैं तो फोन ना मिलने पर कम्प्यूटर में ‘Find my Device’ टाइप करें। ऐसा करते ही गूगल आपके फोन का लोकेशन गूगल मैप पर दिखाएगा।

बता दें कि गूगल मैप के इस फीचर का इस्तेमाल करने के लिए आपके Smartphone में GPS ऑन होना चाहिए तभी गूगल मैप आपके खोए हुए फोन का लोकेशन सर्च कर पाएगा।

गूगल के इस नए फीचर की मदद से आप अपने एंड्रॉइड फोन में नोटिफिकेशन भेज कर एंड्रॉइड डिवाइस मैनेजर सेटअप कर सकते हैं।

यह आपके खोए हुए फोन को लॉक कर देगा। बता दें कि आइफोन में यह फीचर काफी पहले से इस्तेमाल किया जा रहा है। अब गूगल मैप की मदद से एंड्रॉइड यूजर्स भी इसका इस्तेमाल कर पाएंगे।

2. UI (user interface)

Android का UI (user interface)  काफी आसान और बेहतर Active user Interface प्रदान करता है। इसका इस्तेमाल करना बहुत ही आसान है आराम दायक है। इसे कोई भी आम इंसान जो पहली बार भी Smartphone  का उपयोग कर रहा है, वह भी इसे बड़े ही आसानी के साथ Android के काफी बेहतर और आसान Graphics user interface के जरिये इसे बड़े आराम से Operate कर सकता है।

3. Multiple Language Support

Android Smartphones Multiple Language Support अर्थात बहुत सारी लोकल भाषाओं को सपोर्ट करता है। उदहारण के लिए भारत के लोकल Language जैसे :- इंग्लिश, हिंदी, मराठी, पंजाबी, गुजराती, बंगाली, तेलुगू इत्यादि आप अपने पसंदीदा भाषा को चुनकर अपने Phone में उपयोग कर सकते हैं।

4. Android Multi Tasking

Multi Tasking का मतलब है कि आप एक साथ कई सारे विभिन्न चीजे कर सकते हैं। जैसे आप Google पर कुछ सर्च कर रहे हैं और उसके साथी आप Music App से गाना भी सुन सकते हैं। और WhatsApp पर Chat भी कर सकते है. साथ ही किसी File को Download भी कर सकते हैं।

5. Applications

Android में आप अपने मनपसंद का Applications Install कर के उसे Use कर सकते हैं। एंड्रॉयड ओएस में Google Play Store एक By default App होता है जो उपयोगकरताओ को फ्री में App Download करने की अनुमति देता है। गूगल प्ले स्टोर से आप अनगिनत ऐप डाउनलोड कर सकते हैं।

Android Os की खास बात यह है कि यह एक Free और Open Source ऑपरेटिंग सिस्टम है। यानी इसका इस्तेमाल किसी भी मोबाइल फोन में किया जा सकता है। इसका सोर्स कोई भी Code Developer देख सकता है जिसको बाद में अपने जरूर से के हिसाब से इसमें बदलाव कर सकता है। इसमें बदलाव कर सकता है।

इससे Programmer और Developer को एंड्रॉयड के लिए ऐप बनाने में आसानी होती है जो किसी और Os में नहीं होती यही वजह है कि बहुत प्रतिष्ठित कंपनी Android System Os पर चलने वाले Smartphone और Tablet मार्केट में लॉन्च कर रही है।

दोस्तों Google द्वारा बनाई गई इस Os को आज पूरी दुनिया में सभी Mobile Phones में इस्तेमाल किया जाता है। Google Android Os को और भी बेहतरीन बनाने के लिए नए Versions लाता रहता है। इन नए वर्जन का इस्तेमाल करने के लिए आपको हर बार एक नया फोन खरीदने की कोई आवश्यकता नहीं है।

यह Versions आपके फोन में ही Update के रूप में मिलता है जिसे आप मुफ्त में Download करके Install कर सकते हैं। Update करने से आपके मोबाइल फोन में बहुत सारे नए Future पा सकते हैं और इसके साथ हर एक अपडेट के बाद आपको फोन की Speed और Performance में बढ़ोतरी होती है।

निष्कर्ष (Conclusion)

मैं उम्मीद करता हूँ कि आपको यह पोस्ट अच्छी लगी होगी और आप इस पोस्ट के माध्यम से एंड्रॉइड के बारे में अच्छे से समझ गए होंगे। एंड्रॉइड से सम्बधित सभी जानकरी साझा करी है जिसमे हमने आपको बताए है की एंड्रॉइड क्या है ? ( What is Android in Hindi ) दोस्तों पढ़ कर आपको पता चल ही गया होगा

एंड्रॉइड क्या है ? Android Inc. का इतिहास और एंड्राइड के संस्करण (Version of Android in Hindi) अगर आपको ये लेख में दी हुई जानकारी पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों के साथ साझा जरूर करे।हमारे द्वारा दी गई यह जानकारी आपको कैसी लगी, हमें कमेंट करके अवश्य बताएं,

साथ ही इस पोस्ट को अपने सभी सोशल मीडिया प्लेटफार्म जैसे Facebook, WhatsApp, Telegram पर अवश्य शेयर करें।आपको इस पोस्ट से सम्बंधित कोई भी परेशानी हो तो हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते हो।एंड्रॉइड से सम्बंधित संपूर्ण जानकारी

[FAQ’S] About एंड्रॉइड क्या है – What is Android in Hindi

एंड्राइड सिस्टम क्या है ?

एंड्राइड एक Operating System है जिसका इस्तेमाल Smartphone और tablet , Android Tv में होता है.

एंड्राइड ऑटो क्या है ?

एंड्रॉइड ऑटो एक बहुत ही कमाल का फीचर है। जिसे गूगल द्वारा बनाया गया है जो एंड्रॉइड ऑटो कार एंटरटेनमेंट और नेविगेशन हेड यूनिट के लिए एक ड्राइविंग कम्पैनियन ऐप है।

एंड्रॉइड का सबसे लेटेस्ट वर्शन कौन सा है ?

एंड्राइड का वर्तमान में सबसे लेटेस्ट वर्शन Android 12 है जिसे Snow Coneके नाम से भी जाना जाता है. जो की एंड्राइड का लेटेस्ट वर्शन नाम है.

एंड्राइड किसने बनाया ?

एंड्राइड को Android Inc कंपनी ने बनाया जिसकी स्थापना 2003 में Miner, Andy Rubin, Nick Sears और Crish White इन 5 लोगों की टीम ने मिलकर बनाया था लेकिन 2005 में एंड्राइड को गूगल ने खरीद लिया था जिसके बाद से ही एंड्राइड गूगल का ही एक Product है.

Sharing Is Caring:

Leave a Comment