पेट की गैस को जड़ से खत्म करने के अचूक उपाय | Pet ki gas ka gharelu upchar

Rate this post

पेट की गैस को जड़ से खत्म करने के उपाय / pet ki gas ka jad se khatm karane ke upaay

पेट की गैस को जड़ से खत्म करने के उपाय : आजकल सभी मनुष्यों में पेट में गैस बनना एक आम समस्या हो गई है, पेट आहार का भंडार गृह होता है. भगवन का बनाया गया यहाँ अंग हमारे उल्टा – सीधा खान पान की वजह से अनेक बिमारियों का घर बन जाता है. पेट की गैस यहां लगभग हर चौथ इंसान की समस्या है. एसिडिटी जैसी बीमारी आम हो गई है ज्यादातर हम बाहर की तैलीय पदार्थ से बनी चीजें खाते रहते हैं. जिसके दुष्परिणाम अनुसार एसिडिटी के रूप में पेट में, सीने में, सिर में तेज दर्द होता है.

भूख लगने पर जब जो सुपाच्य (आसानी से पच जाये) और भक्ष्य (खाए जाने योग्य) आहार का सेवन किया जाता है. तो पाचन संस्थान उन्हें पचाकर रस धातु मैं बदल देता है. पर अधिक मात्रा में अभक्ष्य (नहीं खाने योग्य) प्रदार्थो का सेवन करने से पेट में गैस , अपच , कब्ज जैसे तरह – तरह के बीमारी उत्पन्न होने लगता है. अधिक मात्रा में मिर्च , मसाले , अचार , चटनी , खट्टे , तीखे , प्रदार्थो के सेवन से भी पाचन तंत्र प्रभावित होती है. इससे खाना भी ठीक से पचता नहीं है जिसके परिणाम स्वरुप पेट की गैस (Pet ki gas) जैसे बीमारी हो सकती है. इसलिए हमेश अपने खाना को सदा रखे. पेट की गैस आपके शरीर को घर कर लेगी और आप दिन भर पेट की तकलीफो से परेशान रहने लगेंगे

उस वक्त बस आपको ऐसा लगेगा कि जल्द से जल्द इस समस्या का अचूक उपाय मिल जाए इसी को ध्यान में रखते हुए हमने आपके लिए पेट की गैस को जड़ से खत्म करने के उपाय ( Pet ki Gas ka jad se khatam karne ke upaaye ) Gharelu upchar लेकर आए हैं.

जिससे आप अपने पेट में गैस (Pet me Gas) समस्या दूर हो जाएगी , इस प्रकार pait ki gas ka ilaj की समस्या ज्यादातर इन कारणों के वजह से होते हैं जैसे :- ज्यादा देर तक भूखे रहना, तीखा या ज्यादा तेल से बने भोज्य पदार्थों से जो पेट की

पाचन क्रिया के लिए अधिक कठिन हो, और ठीक तरीके से भोजन को चबाकर ना खाना, अधिक दवा के सेवन के कारण भी इस प्रकार की समस्या उत्पन्न हो जाती है,

पेट की गैस के कारन | Pet ki Gas ki Karan


आज के बढ़ते तैलीय प्रदार्थ से खान पान अनियमित आहार विहार के कारन ही यहाँ रोग अधिक होता है. आजकल न तो लोगों के भोजन का निश्चित समय है , न सोने का

धूम्रपान का बढ़ता शौक , मिर्च मसाले तेल का अधिक प्रयोग इन्ही सब का दुष्परिणाम है. आज का बहु प्रचलित पेट की गैस की समस्या

पेट में गैस होने पर निम्नलिखित लक्षण दिखाई देते हैं | Pet ki Gas ke Lakshan


  • पेट में सूजन, शरीर में भारीपन विशेषकर पेट का भारी भारी सा लगना
  • सिर में दर्द रहना भी पेट में गैस मुख्य लक्षण हैं।
  • मुंह से बदबूदार सांसे आना, पेट में जकड़न
  • भूख न लगना, खाना खाने पर कच्ची डकारें आना
  • उल्टी बदहजमी, व पेट में अधिक दर्द का होना,
  • दस्त की तकलीफ होना, पेट का भारीपन लगना
  • पेट में गैस होने से पाचन क्रिया अव्यवस्थित हो जाती है. अम्ल और झार का संतुलन बिगड़ जाता है.
  • भूख नहीं लगता पेट भरा भरा सा लगता है.
  • दस्त साफ़ नहीं होता डकारे अधिक आती है. थकावट व आलश्य लगता है

  गैस की समस्या से छूटकारा पाने के आसान से घरेलू उपाय pet ki gas ka ilaj | Pet ki Gas ka jad se khatam karne ke upaaye


  • पेट में गैस बनने की अवस्था में भोजन के पहेले 125 ग्राम मटठे में 2 ग्राम अजवाइन और आधा चम्मच काला नमक मिलाकर खाने से गैस बनना खत्म हो जाते हैं
  • अलसी की पत्ती सब्जी बनाकर खाने से गैस की शिकायत दूर हो जाती है.
  • अजवायन 2 ग्राम, नमक आधा ग्राम सभा कर खाए, पेट दर्द गैस ठीक हो जाएगा
  • एक लहसुन की फांके छीलकर बीच निकली हुई मुनक्का 49 में लपेटकर भोजन के बाद जमा कर निकल जाए इस विधि से पेट में रुकी हुईं
  • पानी के साथ 5 hingwashtak churna खाने से सभी प्रकार की वायु विकार दूर होता है
  • लहसुन और अदरक के रस को मिलकर कुनकुने पानी के साथ पी लीजिए पेट का अफरा चंद मिनटों में भाग जाएगा
  • भोजन हमेश अपने तय समय पर करें
  • भोजन के समय सादे पानी बजाये आजवाइन के उबले पानी का प्रयोग करें
  • एक ग्लास गन्नेका रस गरम करके उसमें निम्बू रस और थोड़ा सा सेंधा नमक डालकर सेवन करें दिन में कम से कम दो बार पिए कभी जीवन में कभी गैस नहीं होगा आपको

निष्कर्ष

पेट में गैस होने पर रोगी को भोजन में चोकर युक्त आटे की रोटी, मूंग की दाल , दूध , लहसुन , सोंठ , हींग , मेथी अदरक , निम्बू आदि चीज़ का सेवन करना चाहिए भोजन नियत पर करना चाहिए , तथा भोजन के पहले या तुरंत बाद पानी नहीं पीना चाहिए चिंता व तनाव से दूर रहे यह भी मुख्या वजह होता है गैस का मिर्च , मसाले , तथा तेल से बने बाहरी वास्तु का सेवन न करें , चाय , काफी , नशा से हमेश दुरी बनाये रखे |

Sharing Is Caring:

Leave a Comment